मैंने काला रंग चढ़ा रखा है

दुनिया ने खूब पंगा पड़ा रखा है,
इसलिए मैंने काला रंग चढ़ा रखा है |

बेकार ही ज़िंदगी को मुअम्मा बना रखा है,
इसलिए मैंने काला रंग चढ़ा रखा है |

दिल में इतनी नफरत का लोहा जड़ा रखा है,
इसलिए मैंने काला रंग चढ़ा रखा है |

सब ने सफ़ेद रंग में अपना रंग लगा रखा है,
इसलिए मैंने काला रंग चढ़ा रखा है |

मैंने अपने आप को अजब बना रखा है,
इसलिए मैंने काला रंग चढ़ा रखा है |

One thought on “मैंने काला रंग चढ़ा रखा है

Thank you very much!

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s