कल रात मेरी मौत हो गयी

dead-person

कल रात मेरी मौत हो गयी,
ज़िंदगी ने झुकाया सर मेरा |

ऐसा तो सिर्फ मेरे ही साथ हुआ,
बारिश ने जलाया घर मेरा |

उसी ने दिए ज़ख्म पे ज़ख्म,
बना फिरता था जो चारागर मेरा |

मैं पाना चाहता था खोने को,
कुछ ना हो सका मगर मेरा |

अजब, खुदा से मुलाक़ात हो गयी,
मिट ही गया जो था सब डर मेरा |

 

11 thoughts on “कल रात मेरी मौत हो गयी

Thank you very much!

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s