इधर भी है, उधर भी

कुछ मजबूरियाँ इधर भी है, उधर भी |
आग दिल में इधर भी है, उधर भी |

ख़ामोश हम भी है, वह भी है,
तमस दिल में इधर भी है, उधर भी |

देखें तो कितनी पास है, सोचें तो कितनी दूर |
हाँ, वही है मेरी सुनी आँखों का नूर |

ज़िंदगी से बढ़कर कोई सज़ा नहीं है,
चंद लम्हों की चाह इधर भी है, उधर भी |

अब तो साया भी नहीं साथ है हमारे,
पास रहकर भी वह कितने दूर है हमारे |

ऐसा भी नहीं के प्यार बीच नहीं हमारे,
होठों पर एक बात इधर भी है, उधर भी |

4 thoughts on “इधर भी है, उधर भी

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s