चलिए कोई बात नहीं

आप हमारे साथ नहीं, चलिए कोई बात नहीं |
आप हमारे हो ना सके, चलिए कोई बात नहीं |

ज़िंदगी की धुप में अपनों की छाँव ना मिली,
आपकी वफ़ा तक़दीर में नहीं, चलिए कोई बात नहीं |

गैरों से प्यार मिला पर अपनों ने सितम ढाये,
आप चले, हम रुक गए, चलिए कोई बात नहीं |

दिल ही दिल में जलते रहे, ना चाहते भी पास आते रहे |
बिना बोले ही सुनते रहे, बिना कहे ही समझते रहे |
पर वो बात आपसे कह ना पाये, चलिए कोई बात नहीं  |

 

5 thoughts on “चलिए कोई बात नहीं

Leave a Reply